नायाब कामयाबियों से भरे रघुराम राजन के जीवन  में बहुत है सीखने-समझने को….‘मेरी किस्मत ने मुझे बहुत बुलंदियाँ अता कीं। जब मुझे आईआईएम में अपने भविष्य के बारे में पूछा गया था कि मैं क्या बनना चाहता हूँ, तो मेरी ज़ुबान से निकल गया था कि मैं आरबीआई का गवर्नर बनना चाहता हूँ।’ बुलंदियाँ किसी